भारतीय नौसेना की ताकत में हुआ इजाफा

परीक्षणों के दौरान डीएसआरवी ने 666 मीटर गहराई तक गोता लगाने में कामयाबी हासिल की। भारतीय समुद्र में किसी मानवचालित वाहन ने पहली बार इतनी गहराई तक पहुंचने का यह कारनामा कर दिखाया है। पनडुब्बी बचाव वाहन के चालक दल ने 650 मीटर से अधिक की गहराई तक साइड स्कैन सोनार ऑपरेशन भी किए।

Read in English: Indian Navy augments submarine rescue capability

चालू परीक्षणों में वायु यातायात प्रणाली को भी शामिल किया जाएगा जो भारतीय वायु सेना के भारी वजन वाले यातायात हवाई जहाजों द्वारा चलाई जाती है। परीक्षणों के पूरा हो जाने के बाद भारतीय नौसेना विश्व की नौसेनाओं के उस छोटे समूह में शामिल हो जाएगी जिनके पास समेकित पनडुब्बी बचाव क्षमता मौजूद है।

Related Items

  1. भारतीय कंपनी का बड़ा दावा, कैंसर का इलाज अब हो जाएगा सस्ता

  1. अगले 48 घंटों के दौरान उत्तरी इलाकों में पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव

  1. भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में सलीम का विशेष सम्मान

loading...