भारत अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म महोत्‍सव 20 नवम्‍बर से गोवा में

Read in English: International Film Festival of India to commence in Goa from 20th November

महोत्‍सव का उद्घाटन ‘द एसपर्न पेपर्स’ के प्रदर्शन से किया जाएगा। यह फिल्म बायरोनिक रोमांच के जुनून, स्‍वप्‍न और भव्‍यता के नष्‍ट होने की कहानी है।

प्रत्‍येक वर्ष आईएफएफआई एक देश को विशेष फोकस की श्रेणी में रखता है। आईएफएफआई के इस संस्‍करण में इजराइल को विशेष फोकस देश का दर्जा दिया गया है। अभि नेशर द्वारा निर्देशित ‘द अदर स्‍टोरी’ इस अनुभाग में प्रदर्शित होने वाली पहली फिल्‍म होगी।

झारखंड को विशेष फोकस राज्‍य की श्रेणी में रखा गया है। अ डेथ इन द गंज, रांची डायरीज, बेगम जान व अन्‍य फिल्‍मों को इस अनुभाग में चयनित किया गया है। इन फिल्‍मों के प्रदर्शन से लोगों को राज्‍य की कला और संस्‍कृति की विशेष जानकारी प्राप्‍त होगी।

एनिमेशन फिल्‍म अनुभाग को पहली बार महोत्सव में शामिल किया गया है। इस अनुभाग में तीन अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍मों का प्रदर्शन किया जाएगा जिन्‍हें भारतीय स्‍टूडियो के सहयोग से बनाया गया है।

महोत्‍सव में एक खुले क्षेत्र में विशाल पर्दा लगाया गया है। इस पर खेलो इंडिया और भारतीय खेलों से संबंधित फिल्‍में दिखाई जाएंगी। इस अनुभाग में गोल्‍ड, मैरी कॉम, भाग मिल्‍खा भाग, 1983, एमएसडी-द अन्‍टोल्‍ड स्‍टोरी और सूरमा फिल्‍मों को शामिल किया गया है।

इस वर्ष का दादा साहेब फाल्‍के पुरस्‍कार विनोद खन्‍ना को दिया गया था। महोत्‍सव के दौरान उनकी कुछ सर्वश्रेष्‍ठ फिल्‍मों जैसे अचानक, लेकिन और अमर अकबर एंथनी का प्रदर्शन किया जाएगा।

श्रद्धांजलि अनुभाग के तहत उन फिल्‍मी हस्तियों की फिल्‍मों का प्रदर्शन किया जाता है जिनकी हाल में मृत्‍यु हुई हैं। इस वर्ष शशि कपूर, श्रीदेवी, एम करुणानिधि और कल्‍पना लाजमी को श्रद्धांजलि दी जाएगी।

दृष्टिबाधित बच्‍चों के लिए विशेष प्रदर्शन किया जाएगा। इसके तहत श्रव्य माध्‍यम की सहायता से विवरण दिया जाएगा। इस अनुभाग के तहत शोले और हिचकी फिल्‍में प्रदर्शित की जाएंगी।


Related Items

  1. ऐसे संभव है भारत में ‘चीनी’ सामानों का बहिष्कार

  1. बेहद शानदार रहा 49वें भारत अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह का शुभारंभ

  1. अब चीन को चीनी बेचेगा भारत

loading...