वृंदावन की विधवाओं ने पीएम मोदी को भेजी विशेष राखियां

वृंदावन के विभिन्न आश्रमों में रहने वाली विधवाओं ने इस साल रक्षाबंधन के त्योहार पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को राखी और वृंदावन थीम वाले मास्क भेजे हैं। इन राखियों पर ‘सुरक्षित रहें’ और ‘आत्मनिर्भर’ जैसे संदेश भी दिए गए हैं।

पिछले साल तक ये विधवा माताएं रक्षाबंधन के दिन राखी बांधने के लिए प्रधानमंत्री आवास पर जाती थीं। लेकिन, इस साल कोरोना संकट के चलते ऐसा संभव न हो सकेगा।

आश्रमों में रह रही इन माताओं ने इस रक्षाबंधन पर प्रधानमंत्री के चित्रों के साथ 501 विशेष राखियां तैयार की हैं। साथ में, इतने ही विशिष्ट वृंदावन-थीम वाले फेस मास्क भी उन्हें भेजे गए हैं। ये राखियां मां शारदा और मीरा सागरभग्नि आश्रम में रहने वाली वृद्ध विधवाओं के द्वारा तैयार की गई हैं।

ध्यान रहे, कई सामाजिक कलंकों को तोड़ने के उद्देश्य से सुलभ आंदोलन के संस्थापक डॉ. बिंदेश्वर पाठक ने वृंदावन में रहने वाली विधवाओं के लिए सभी महत्वपूर्ण हिंदू अनुष्ठानों का आयोजन शुरू किया था। रक्षाबंधन भी उसमें से एक है।

सुलभ होप फाउंडेशन की उपाध्यक्ष विनीता वर्मा ने बताया कि कोरोना संकट के चलते इसे लेकर इन विधवाओं में निराशा की भावना जरूर है लेकिन उनके हौसले बुलंद हैं। लगभग 75 साल की छबी दासी, जिन्होंने बीते वर्ष व्यक्तिगत रूप से प्रधानमंत्री को राखी बांधी थी, इस बार बेहद दुःखी हैं। लेकिन, वह इस बात से बेहद खुश भी हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके द्वारा बनाई गई राखियां और मास्क भेजे जा रहे हैं।


Related Items

  1. कोरोना से मुकाबले को वृंदावन की माताओं ने बनाए डिजायनर मास्क

  1. मोदी सरकार की 10 बातें जो सिद्ध करती है कि नामुमकिन अब मुमकिन है

  1. पुलिस की कार्यप्रणाली पर मोदी सरकार मांगेगी आम जनता की राय

loading...