युवा प्रेरक के रूप में स्‍वामी विवेकानंद की प्रासंगिकता

भारत विश्व में सबसे ज्यादा युवाओं का देश है जिसकी लगभग 65 प्रतिशत जनसंख्या की आयु 35 वर्ष से कम है। उम्मीद की जाती है कि वर्ष 2020 तक भारत की आबादी की औसत आयु 28 वर्ष होगी जबकि अमेरिका की 35, चीन की 42 और जापान की औसत आयु 48 वर्ष होगी। वास्तव में युवा किसी भी देश की जनसंख्या में सबसे गतिशील और जीवंत हिस्सा होते हैं।

Subscribe now

Login and subscribe to continue reading this story....

Already a user? Login


Related Items

  1. प्रासंगिकता खो बैठे हैं एक्जिट पोल, ज्योतिषियों की भविष्यवाणी है ज्यादा सही

  1. जब एक बंदर ने स्वामी विवेकानंद को दिया जिंदगी का सबक

  1. जब स्वामी विवेकानंद ने पहन रखे थे विदेशी जूते

loading...