बीबीसी जैसे अंतरराष्ट्रीय मीडिया संस्थानों ने पिछले पचास वर्षों में जो किया है, उसका सन्दर्भ लेकर ही उसकी आज की हरकतें देखी जाएंगी।

Read More

बीबीसी एक बार फिर से चर्चा में है लेकिन इस बार अपनी खबरों को लेकर नहीं बल्कि एक बहुत पुराने वीडियो को अब प्रसारित करने के लिए, जिसे मोदी सरकार द्वारा झूठा प्रोपेगंडा बताया गया है।

Read More

अपने पाठकों और दर्शकों को प्रभावित कर शोहरत और दौलत बटोरते सोशल मीडिया के प्रभावी लोगों पर नकेल कसने के लिए सरकार ने कुछ नए और सख्‍त नियम लागू किए हैं। इनका असर इनके कारोबार पर भी पड़ेगा और मनमाने व्‍यवहार पर भी।

Read More

कन्नड़ भाषा के महान साहित्यकार मास्ति वेंकटेश अय्यंगर कन्नड़ कहानी के प्रवर्तक माने जाते हैं। उनकी रचना चिक्क वीरराजेंद्र के लिए उन्हें वर्ष 1983 में, ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित किया गया। मास्ति अय्यंगर ने 137 से भी अधिक रचनाएं की, जिनमें से लगभग 119 कन्नड़ भाषा में और शेष अंग्रेजी भाषा में लिखी गई हैं। इस आलेख को पूरा पढ़ने के लिए अभी "सब्सक्राइब करें", महज एक रुपये में, अगले पूरे 24 घंटों के लिए...

Read More

साहित्य सृजन एक साधना है। व्यक्ति जीवन की आंच पर तपता है और उन अनुभूतियों को शब्दों के सांचे में ढालकर पाठकों के सम्मुख प्रस्तुत करता है। लेखक अपने अनुभवों को, ठीक-ठीक पाठकों तक पहुंचा दे तो सृजन का एक उद्देश्य सफल होता है। इस आलेख को पूरा पढ़ने के लिए अभी 'सब्सक्राइब करें' महज एक रुपये में, अगले पूरे 24 घंटों के लिए...  

Read More

कबीर ने भारत के सामाजिक और साहित्यिक क्षेत्र को अत्याधिक प्रभावित किया। वह महज विचारक, कवि या समाज सुधारक ही नहीं, वरन अपने आप में एक संस्था माने जाते हैं। वह आजीवन समाज जीवन में व्याप्त आडंबरों पर कुठाराघात करते रहे। लोक कल्याण के लिए ही उनका समस्त जीवन था। पूरा आलेख पढ़ने के लिए अभी सब्सक्राइब करें, महज एक रुपये में, अगले पूरे 24 घंटों के लिए... 

Read More

Mediabharti