सुनें : भारत के हाथों से यूं फिसला कच्चतीवू...

इंदिरा गांधी द्वारा कच्चतीवू द्वीप श्रीलंका को दे दिए जाने की पूरी कहानी बता रहे हैं वरिष्ठ पत्रकार ब्रज खंडेलवाल।

ब्रज खंडेलवाल देश के वह पहले पत्रकार हैं, जिन्होंने कच्चतीवू को श्रीलंका के हवाले किए जाने के विरोधस्वरूप सबसे पहले दिल्ली उच्च न्यायालय में याचिका दायर की, जिसे साल 1971 के युद्ध की वजह से लगाए गए आपातकाल के दौरान यह कहकर खारिज कर दिया गया कि उस समय नागरिकों के सभी प्रकार के मूल अधिकारों पर पाबंदी है। उनसे बात कर रहे हैं मीडियाभारती.नेट के संपादक धर्मेंद्र कुमार

Related Items

  1. स्वास्थ्य रिकॉर्ड रखने का अहम साधन है आयुष्मान भारत स्वास्थ्य खाता

  1. सुनें : कच्चतीवू मामले का तमिल राजनीति पर यह होगा असर...

  1. सुनें : बांग्लादेश व कच्चतीवू मामले में यह है अंतर...


Mediabharti