एक आवाज जिस पर कभी ठप हो जाती थी मुंबई

हर साल तीन जून को जॉर्ज फर्नांडिज के जन्मदिन पर देश-दुनिया में रहने वाले उनके मित्र, सम्बंधी और प्रशंसक उन्हें याद करते थे..., अपनी पहुंच और सुविधानुसार मिलकर या लिखकर उन्हें याद करते थे..., जन्मदिन की मजबूत बधाई देते थे।

हां..., इधर कई वर्षों से उन्हें इसका पता नहीं रहता था। बीमारी और स्मृति-लोप के कारण एक समय के क्रांतिकारी मजदूर नेता और प्रखर समाजवादी, लोहियावादी को कुछ पता नहीं था कि देश की राजनीति में अभी क्या हो रहा और उन्हें किस रूप में याद किया जा रहा है!

उनकी एक आवाज पर कभी मुंबई ठप पड़ जाती थी। देशभर में रेल का चक्का थम जाता था।

बतौर रक्षा मंत्री 70 साल की जवानी में करगिल की 18 बार यात्रा की और पाकिस्तान को पटखनी दी। वह जुझारू और जबरदस्त नेता थे। स्पष्ट बोलने वाले। खरी-खरी।

उद्योगपतियों के एक सम्मेलन में बतौर उद्योग मंत्री उन्होंने तानाशाह (आपातकाल) के समक्ष हड़बड़ाते चूहों की संज्ञा दी थी।

मुंबई महानगर पालिका के पार्षद से लोक सभा सांसद और उद्योग मंत्री, रेल मंत्री व रक्षा मंत्री तक के सफ़र में जॉर्ज की आवाज सहमति-असहमति-विरोध-प्रतिरोध के बीच एक विशिष्ट आवाज बनी रही।

साल 1967 के चौथे लोक सभा चुनाव में पिछले तीन लोक सभा चुनाव में भारी बहुमत से जीतते आ रहे दक्षिण मुंबई से भारत सरकार के वरिष्ठ मंत्री और दमदार नेता एसके पाटील को पार्षद और मजदूर नेता जॉर्ज ने 48.5 प्रतिशत पाकर 40 हजार वोटों से जोरदार पटखनी दी।

कहते हैं कि पाटिल ही नहीं, उस समय की मीडिया भी उन्हें अजेय मानती थी। यही नहीं, उस समय पाटील ने एक बार पत्रकारों से कहा था कि 'भगवान भी उन्हें नहीं हरा सकता है!'

दुर्द्धर्ष समाजवादी, श्रमिक पुरोधा जॉर्ज, अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में गठित राजग के सूत्रधार और संकटमोचक के रूप में भी जाने गए।

वह वही जुझारू लोहियावादी थे, जो लोकसभा में भाजपा के सहयोगी के रूप में अटल सरकार के पक्ष में 'वे कौन हैं, जो इकट्ठे हुए हैं' की ललकार लगा रहे थे।

राजग काल में 'सांप्रदयिकता से समझौता' करने के आरोप लगे उन पर। आज भी लगाए जाते हैं। साथ ही, रक्षा मंत्री के तौर पर भ्रष्टाचार के तीन गंभीर आरोप लगे। उन्हें विपक्ष ने 'कफन चोर' भी कहा। शस्त्रों की खरीद में 'तहलका' स्टिंग में दलाली के भी आरोप लगे। इजरायल से शस्त्र खरीद में भी रिश्वत के आरोप लगे। पर, अंततः निर्दोष साबित हुए।

ऐसे लोकतंत्र के लड़ाका जॉर्ज को देश आज नमन कर रहा है...


Related Items

  1. रणजी सेमीफाइनल : पृथ्वी शॉ मुंबई टीम में शामिल

  1. मुंबई में देखे गए संदिग्धों में से 2 का स्कैच जारी, सर्च ऑपरेशन जारी

  1. आवाज ए पंजाब पर सिद्धृू का आखिरी फैसला 8 सितंबर को !

loading...